Home Treks in Kerala Meesapulimala Trek

Meesapulimala Trek

by Pankaj Pant
0 comment
Meeshapulimala-Trek

मीसापुलिमाला ट्रैक

Meesapulimala Trek

Meesapulimala Trek and Camping

Meesapulimala-Trek

मीसापुलिमाला ट्रैक(Meesapulimala Trek) भारत में केरल के इडुक्की जिले के पश्चिमी घाट की सबसे ऊंची तथा दक्षिण भारत की दूसरी सबसे ऊंची चोटी है जिसकी ऊंचाई समुद्र तल से 2,640 मीटर अर्थात 8,661 फ़ीट है यह चोटी मुन्नार से लगभग 20 किमी की दूरी पर स्थित है तथा अनामीलाई पर्वत तथा पलानी पर्वत के मध्य तथा सूर्यानल्ली के पास स्थित है मुन्नार अपने यहाँ के चाय के बागानों के लिए प्रसिद्ध है जो उत्तम किस्म की व खुशबूदार होती है जिसकी मांग पूरे विश्व में है

मीसापुलिमाला ट्रैक केरल के सबसे चर्चित ट्रैक्स में से एक है जहाँ पर्यटकों की संख्या हर साल बढ़ती जा रही है यह ट्रैक प्रकर्ति प्रेमियों के लिए भी उत्तम है यहाँ आकर वो तरह-तरह के पक्षियों को तथा यहाँ की खूबसूरती को अपने कैमरा में कैद कर सकते है इस पूरे ट्रैक पर जाने में 8 से 10 घंटे तक का समय लग जाता है पूरा ट्रैक लगभग 8.5 किमी लम्बा है यहाँ पहुँचने के लिए सात पहाड़ियों के माध्यम से होकर जाना होता है जिनके बीच जाकर आप प्राकर्तिक खूबसूरती का आनंद ले सकते है

ट्रैक पर जाते हुए आपको खूबसूरत रोडोडेंड्रोन के फूल दिखाई पड़ते है जो इस ट्रैक की खूबसूरती को और अधिक बढ़ा देते है ये आठ पहाड़ो से मिलकर बनी पर्वतमाला है जो एक मुछ की तरह फैली हुई दिखाई पड़ती है यह ट्रैक रोडो घाटी से होता हुआ जाता है और अगर आप भाग्यशाली हुए तो आपको ट्रेक्किंग के दौरान जंगली थार, सांभर, गौर इत्यादि जंगली जानवर भी देखने को मिल जायेंगे ये ट्रैक ज्यादा कठिन न होने के कारण किसी भी उम्र के व्यक्ति इस ट्रैक पर आसानी से जा सकते है बस ट्रैक पर जाने हेतु व्यक्ति का शारीरिक व मानसिक रूप से मजबूत होना आवश्यक होता है

मल्यालम मूवी चार्ली के प्रसिद्ध हो जाने के बाद ये ट्रैक और भी प्रसिद्ध होता गया जिस कारण भारत के साथ विदेशी पर्यटक भी यहाँ ट्रैकिंग और कैंपिंग के लिए आने लगे जिस कारण इस ट्रैक की प्रसिद्धि में भी विस्तार होता गया

यहाँ की हरी भरी वादियों, देवदार और फर्न के पेड़ व यहाँ की ठण्डी हवा यहाँ के वातावरण को और भी खुशनुमा बना देते है यहाँ मौजूद सफ़ेद बादल जैसे एक जगह से दूसरी जगह नाचते हुए प्रतीत होते है जो देखना स्वयं में एक सुन्दर अनुभूति होती है

Meessapulimala Trek Route

आप मीसापुलिमाला तक जीप सफारी के द्धारा भी जा सकते है पैदल जाने हेतु ट्रैक साइलेंट वैली(Silent Valley) से शुरू होता है तथा हरी भरी पहाड़ियों, रोडो घाटी से होता हुआ जाता है चोटी पर पहुँचकर आप तमिलनाडु व केरल के बॉर्डर की खूबसूरती को आसानी से देख सकती है वही चोटी से नीलकुरिंजी फूलो को भी देख सकते है वापसी के दौरान का ट्रैक थोड़ा मुश्किल होता है आपको शोला के जंगलो से होते हुए आना होता है जो जंगली जानवरो के लिए प्रसिद्ध है आते हुए आप अनायेरो झील के पास भी कुछ वक्त गुजार सकते है वही रास्ते मे मौजूद कोलुक्कुमलाई में मौजूद चाय के सुन्दर बागानों को भी देख सकते है

इस ट्रैक पर जाने के लिए एक अन्य रास्ता भी है जो कुरंगिनी गांव से शुरू होता है यहाँ से जाने हेतु रास्ता थोड़ा लम्बा होता है यह तकरीबन 15 किमी का होता है जिस पर जाने में आपको 9 से 10 घंटे तक का समय लग जाता है

 

Meeshapulimala-Trek
Meeshapulimala Trek

Things to Carry

साथ ले जाने वाली चीजे

गाइड, टैंट, ट्रैकिंग पोल, पानी की बोतल, हाथ के दस्ताने, रैनकोट, कोल्ड क्रीम, लिप बाम, सनस्क्रीन लोशन, धुप से बचाव हेतु अच्छे किस्म के चश्मे, सिरदर्द की दवाइयाँ जैसे क्रोसिन, डिस्प्रिन, कॉटन, बैंड-ऐड, मूव स्प्रे, गौज, क्रैप बैंडेज आदि चीजे है जो आपको ट्रैक पर जाते समय अपने साथ रखनी चाहिए इनकी जरूरत आपको ट्रैक पर जाते वक्त कभी भी पड़ सकती है

मीसापुलिमाला ट्रैक पर कब जाये

When to go Meesapulimala Trek

वैसे तो मीसापुलिमाला ट्रैक पर आप साल में कभी भी जा सकते है परन्तु यहाँ जाने का सबसे सही समय मई और जून तथा सितम्बर से नवंबर तक का रहता है इस समय पर यहाँ पर चारो और हरियाली छाई रहती है व आप प्रकर्ति का सही तरह से लुत्फ़ ले सकते हैA वही फोटोग्राफर्स के लिए भी ये समय उत्तम रहता है इस समय वो यहाँ की खूबसूरत घाटी व आस पास की खूबसूरती को कैमरा में कैद कर सकते है

कठिनाई स्तर: Dificulty Level: आसान

समुद्र तल से ऊंचाई: 2,640 मीटर

स्थिति: मुन्नार, केरल

Related Posts

Leave a Comment

Uttarakhand "Where the journey starts"